18 July 2024

आरटीओ कार्यालय में विजिलेंस टीम का छापा, प्रधान सहायक को रिश्वत लेते पकड़ा

0

रामनगर आरटीआई में ई रिक्शा संचालक ने सेक्टर हल्द्वानी में शिकायत की, की एआरटीओ कार्यालय रामनगर के प्रधान सहायक ललित आर्या द्वारा ई-रिक्शा रजिस्ट्रेशन करने की एवज में उनसे प्रति फाइल 2200 रुपए की मांग की जा रही है। बताया जा रहा है कि ई रिक्शा संचालक द्वारा पूर्व में 9 ई रिक्शा के रजिस्ट्रेशन करवाने के एवज में प्रति ई रिक्शे के ₹2200 रुपए दे दिए गए थे,वहीं एक ई रिक्शा के पैसे वो नही दे पाया था,जिस एवज में प्रधान सहायक ललित आर्या 2200 रुपये देने को लेकर बार बार ई रिक्शा संचालक को फोन कर रहा था। जिस पर आज ₹2200 नगद रिश्वत लेते रंगे हाथ विजिलेंस की टीम ने पकड़ा है।

ये भी पढ़ें:   उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट, सभी रहें सतर्क

शिकायत करता रिश्वत नहीं देना चाहता था तथा भ्रष्ट सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई चाहता था उक्त शिकायत पर सतर्कता अधिष्ठान सेक्टर हल्द्वानी द्वारा गोपनील जांच किए जाने पर प्रथम दृष्टया सही पाई जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया गया जिनके द्वारा नियम अनुसार कार्रवाई करते हुए आज 22 दिसंबर को अभियुक्त ललित मोहन आर्य प्रधान सहायक आरटीओ कार्यालय रामनगर को शिकायतकर्ता से ₹2200 रिश्वत ग्रहण करते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त से पूछताछ जारी है उक्त प्रकरण में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जाएगा। विजिलेंस की कार्रवाई के बाद मौजूद दलालों में भी हड़कंप मच गया और दलाल मौके से भाग खड़े हुए।

ये भी पढ़ें:   RTI ACTIVIST का बड़ा दावा, देहरादून में बन रहे सैन्य धाम का बजट पहुंच गया दोगुना। खर्च होना था 49 करोड़ ओर हो गए 99 करोड़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *