20 July 2024

30 साल की सेवा करने के बाद सूबेदार मेघ सिंह बिष्ट का गांव पहुंचने पर हुआ भव्य स्वागत

0

16 अगस्त 1993 को मात्र 18 साल की उम्र में देश की सेवा का मन में जजबा लिए दूर दराज प्रताप नगर विकासखंड के पट्टी उपली रंमोली के रेका गांव निवासी मेघ सिंह बिष्ट ने अपनी कक्षा 12 की पढ़ाई पूरी करके गढ़वाल राइफल में पहले ही चरण में भर्ती हो गए 1 साल की कड़ी मेहनत और संघर्ष के बाद पहली पोस्टिंग पश्चिम बंगाल के बिना गुड़ी में शुरू करते हुए जम्मू कश्मीर के नौसेना के सेक्टर LC पर उसके बाद उत्तराखंड के देहरादून और 1994 की भारत-पाक कारगिल युद्ध में देश की ओर से विजयपथ पताका हासिल कर देश के विभिन्न कोनों जैसे राजस्थान के बीकानेर सेक्टर में सियाचिन ग्लेसर की पहाड़ियों में उत्तराखंड की जोशीमठ पिथौरागढ़ सहित विभिन्न क्षेत्रों में अपनी 30 साल की सेवाए देने के बाद आज जब गांव में पहुंची तो पूरे क्षेत्र वालों ने गाजे बाजे के साथ उनका दिल खोलकर स्वागत और सम्मान किया। कुंजापुरी मंदिर के पास जिला कांग्रेस कमेटी टिहरी गढ़वाल के अध्यक्ष राकेश राणा महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष आशा रावत सामाजिक कार्यकर्ता चंद्रवीर सिंह बिष्ट मुकेश बिष्ट, तनीषा रावत ,रजत राणा आदि लोगों ने कुंजापुरी मंदिर में पूजा अर्चना के बाद सूबेदार मिक्सिंग बिष्ट का साल ओढ़ कर कर फूल मालाओं के साथ उनका स्वागत किया।

ये भी पढ़ें:   एक ऐसी फिल्म जो उत्तराखंड की सिनेमा को देगी अलग पहचान, पहली गढवाली सुपर नेचुरल थ्रिलर फिल्म हुई रिलीज

वही गांव पहुंचने पर पट्टी ऊपली रंमोली के विभिन्न गांव के साथ रेका मैहर गांव, कुड़ियल गांव,मस्तड़ीं, बेजाभागी, किमखेत, पंडर गांव, कंडियाल गाँव, ओनाल गावँ,सहित पूरे क्षेत्र के लोग उपस्थित थे कार्यक्रम में ग्राम सभा की प्रधान श्रीमती पगड़ी देवी क्षेत्र पंचायत सदस्य श्रीमती हेमलता देवी महिपाल सिंह पूर्व जस्ट प्रमुख अर्जुन सिंह बिष्ट पूर्व प्रधान बिशन सिंह कुंदन सिंह हुकम सिंह आनंद सिंह मुकेश बिष्ट, कुंवर सिंह किशन सिंह खुशहाल सिंह राम सिंह चंद्रवीर सिंह पुरुषोत्तम सिंह नरेश सिंह धूम सिंह बलवीर सिंह आदि लोगों उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें:   मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ली कैबिनेट बैठक, बैठक में कई अहम फैसलों पर लगी मोहर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *