18 July 2024

पीएम मोदी ने ‘3.0’ में कैबिनेट मंत्रियों को दी ज़िम्मेदारी, देखें किस मंत्री को मिला क्या विभाग

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने तीसरे कार्यकाल की शुरुआत कर दी है साथ ही प्रधानमंत्री ने अब अपने नए मंत्रिमंडल में पोर्टफोलियो भी बांट दिए हैं…

 

अपने शपथ ग्रहण समारोह के 24 घंटे के अंदर ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी मंत्रियों को उनके विभाग दे दिए हैं…सबसे बड़ी बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में जिन मंत्रियों को जो जिम्मेदारी दी थी उनमें से टॉप 4 को यथावत जिम्मेदारी इस बार भी दी गई है..

 

कैबिनेट मिनिस्टर राजनाथ सिंह को एक बार फिर से रक्षा मंत्रालय दिया गया है..

अमित शाह एक बार फिर से होंगे देश के गृहमंत्री…

वित्त मंत्री की जिम्मेदारी निर्मला सीतारमण को एक बार फिर से दी गई है…

ये भी पढ़ें:   RTI ACTIVIST का बड़ा दावा, देहरादून में बन रहे सैन्य धाम का बजट पहुंच गया दोगुना। खर्च होना था 49 करोड़ ओर हो गए 99 करोड़

साथ ही विदेश मंत्री की जिम्मेदारी एक बार फिर से एस जयशंकर को ही दी गई है…

 

CCS या केंद्रीय मंत्रिमंडल की सुरक्षा संबंधी समिति में गृह, रक्षा, वित्त और विदेश मंत्रालय शामिल होते हैं. यह सुरक्षा संबंधी मामलों पर फैसला लेने वाली देश की सर्वोच्च समिति होती है… और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने तीसरे कार्यकाल में भी इन तीनों ही महत्वपूर्ण विभागों की जिम्मेदारी पूर्व के मंत्रियों को ही दी है…

 

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय, परमाणु ऊर्जा विभाग, अंतरिक्ष विभाग अपने पास रखे हैं… इसके साथ ही ऐसे विभाग जो किसी भी मंत्री को नहीं दिए गए हैं वह भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास ही होंगे…

ये भी पढ़ें:   उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट, सभी रहें सतर्क

 

मोदी 3.0 में कैबिनेट मंत्री

 

1. राजनाथ सिंह- रक्षा मंत्रालय

2. अमित शाह- गृह मंत्रालय, सहकारिता मंत्रालय

3. नितिन जयराम गडकरी- सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय

4. जगत प्रकाश नड्डा- स्वास्थ्य मंत्रालय, केमिकल फर्टिलाइजर मंत्रालय

5. शिवराज सिंह चौहान- कृषि और परिवार कल्याण, ग्रामीण विकास मंत्रालय

6. निर्मला सीतारमण- वित्त मंत्रालय, कॉर्पोरेट अफेयर्स मंत्रालय

7. एस जयशंकर- विदेश मंत्रालय

8. मनोहर लाल खट्टर- ऊर्जा, आवास और शहरी मामले

9. एचडी कुमारस्वामी – भारी उद्योग मंत्री और इस्पात मंत्रालय

10. पीयूष गोयल- वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय

11. धर्मेंद्र प्रधान- शिक्षा मंत्री

12. जीतन राम मांझी- MSME मंत्रालय

13. राजीव रंजन सिंह (लल्लन सिंह)- पंचायती राज, मछली, पशुपालन और डेयरी

14. सर्बानंद सोनोवाल – बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग

ये भी पढ़ें:   सावधान - कहीं आपका प्लाट भी तो नही पढ़ा है खाली, अगर है तो हो जाए सावधान

15.वीरेंद्र कुमार – सामाजिक न्याय व अधिकारिता 

16.राममोहन नायडू- नागरिक उड्डयन

17.प्रह्लाद जोशी – उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण; और नवीन व नवीकरणीय ऊर्जा

18.जुएल ओरांव – जनजातीय मामले

19.गिरीराज सिंह- कपड़ा मंत्रालय

20.अश्विन वैष्णव – रेल; सूचना एवं प्रसारण; और इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी

21.ज्योतिरादित्य सिंधिया -संचार; और उत्तर पूर्वी क्षेत्र विकास

22.भूपेंद्र यादव – पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन

23.गजेंद्र सिंह शेखावत- संस्कृति; और पर्यटन

24.अन्नूपूर्णा देवी- महिला एवं बाल विकास

25.किरेन रिजिजू – संसदीय कार्य; और अल्पसंख्यक मामले

26.हरदीप सिंह पुरी- पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस

27.मनसुख मांडविया- श्रम और रोजगार; और युवा मामले और खेल

28.जी किशन रेड्डी – कोयला; और खनन

29.चिराग पासवन- खाद्य प्रसंस्करण उद्योग

30.सीआर पाटिल- जल शक्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *