20 July 2024

सरकारी टेंडर दिलाने के नाम पर जालसाजी करता था गिरोह,खुद को बताता था मुख्यमंत्री का निजी सचिव

0

सरकारी टेंडर दिलाने के नाम पर जालसाजी करने वाले गिरोह के खिलाफ देहरादून पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट मे कार्रवाई की…. आरोपी टेंडर दिलाने के नाम पर लोगो से धोखाधड़ी करते थे जिन्होंने देहरादून मे टेंडर दिलाने के नाम पर लाखो रुपये हजम कर लिए पुलिस ने मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर गैंगस्टर एक्ट लगाया है

 

सरकारी टेंडर दिलाने के नाम पर करोड़ो रुपए की धोखाधड़ी को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी सौरभ वत्स और पीसी उपाध्याय को पूर्व में राजस्थान और देहरादून पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा पूरे खेल को बड़े शातिर ढंग से अंजाम दिया जाता था सौरभ वत्स और पिसी उपाध्यय संगठित ग्रुप में कार्य करते हुए पूरे फर्जी दस्तावेजो के आधार पर लोगो को ई टेंडरिंग के माध्यम से सरकारी टेंडर दिलाने का झांसा देते थे और लोगो से ठगी करते थे बीते दिनो एसएसपी देहारादून ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर घटना का खुलासा किया

ये भी पढ़ें:   एक ऐसी फिल्म जो उत्तराखंड की सिनेमा को देगी अलग पहचान, पहली गढवाली सुपर नेचुरल थ्रिलर फिल्म हुई रिलीज

 

वही पकड़े गए आरोपियो के खिलाफ अन्य राज्यो सहित उत्तराखंड मे कई मुकदमे दर्ज है। जिनपर पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही कर दी है साथ ही पकड़े गए आरोपियो की प्रॉपर्टी भी चिन्हित की जा रही है। जिनके खिलाफ जल्द ही पुलिस जबतिकरण की कार्यवाही करेगी

 

ये भी पढ़ें:   मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ली कैबिनेट बैठक, बैठक में कई अहम फैसलों पर लगी मोहर

खुद को सीएम का सचिव बताकर किया फ्राड

 

फ्रॉड करने के लिए आरोपी ने खुद को सीएम का निजी सचिव बताया और हरिद्वार की एक कंपनी को टेंडर दिलाने का झांसा दिया जिसके एवज में आरोपियो ने कंपनी मालिक से लाखो रुपये लिए इधर टेंडर न मिलने पर पीड़ित ने थाना कोतवाली देहरादून में शिकायत दर्ज करवाई जिसके बाद आरोपियो द्वारा की गई धोकाधड़ी का खुलासा हुआ वही पुलिस ने गैंग में शामिल महिला सहित 04 लोगो के ख़िलाफ़ गैंगस्टर एक्ट मे कार्यवाही की पुलिस की माने तो मामले की जांच जारी है।

ये भी पढ़ें:   एक ऐसी फिल्म जो उत्तराखंड की सिनेमा को देगी अलग पहचान, पहली गढवाली सुपर नेचुरल थ्रिलर फिल्म हुई रिलीज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *