18 July 2024

मंगलौर उपचुनाव के दौरान आज दिनभर चलता रहा हंगामा

0

मंगलौर विधानसभा में आज उपचुनाव था और सुबह से ही बड़ी संख्या में लोग बाहर निकल कर वोट डाल रहे थे। वहीं सुबह सुबह एक खबर सामने आई कि मंगलौर में दो पक्षों में लड़ाई हो गई और साथ ही गोली चल गई जिसमें एक आदमी को गोली भी लगी है। लेकिन तब तक पुलिस की तरफ से कोई

 

भाजपा ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी से मुलाकात कर साजिश से मंगलोर चुनाव प्रक्रिया प्रभावित करने के लिए कांग्रेस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है । पार्टी प्रतिनिधिमंडल ने आरोप लगाया कि वहां हुई घटना को लेकर बाहर से आए कांग्रेसियों ने अफवाह फैलाकर माहौल खराब कर मतदान प्रभावित करने की कोशिश की हैं ।

पुलिस और कांग्रेसी नेताओं के बीच काफी देर तक बहस भी चलती रही इस दौरान काज़ी निजामुदीन ,प्रीतम सिंह, हाजी फुरकान, सुमित ह्रदयेश , यशपाल आर्य, इमरान मसूद ने लिबरहेड़ी गाँवजाने की कोशिश की जहां पुलिस ने उन्हें जाने नहीं दिया।

 

 

वहीं देहरादून में कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही दल के प्रतिनिधि मुख्य निर्वाचन आयोग पहुंच गए और दोनों ने ही एक दूसरे के खिलाफ आरोप लगाते हुए शिकायत पत्र भी दिया।

 

सबसे पहले कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल चुनाव आयोग के पास पहुंचा और उन्होंने शिकायत पत्र दिया जिसमें लिखा था

ये भी पढ़ें:   केदारनाथ धाम में सोना चोरी विवाद, मंदिर समिति और शंकराचार्य आमने सामने

 

उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष संगठन/प्रशासन मथुरा दत्त जोशी के नेतृत्व में मंगलौर उपचुनाव में मतदान के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा किये गये गोलीबारी के संबंध में मुख्य चुनाव आयुक्त को एक ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन सौंपते हुए जोशी ने कहा कि उत्तराखण्ड प्रदेश के 33-मंगलौर विधानसभा क्षेत्र में वोटिंग के दौरान सरकारी मशीनरी का खुला दुरूपयोग किया जा रहा है। यही नहीं लिब्बरहेडी में पुलिस प्रशासन एवं मतदान कर्मियों की मौजूदगी में गोलीबारी की घटना सामने आई है, जिसमें बाहरी राज्यों से आये गुंडा तत्वों द्वारा राजकीय प्राथमिक विद्यालय लिब्बरहेडी के बूथ नम्बर 53-54 में मतदाताओं पर लाठी डंडों से प्रहार किया गया तथा गैर कानूनी हथियारों से लगभग 6-7 राउंड हवाई फायरिंग गई जिसमें कांग्रेस कार्यकर्ता शकील, सहबाग एवं शौकीन नामक व्यक्ति गम्भीर रूप से घायल हुए हैं जिसमें शौकीन नामक युवक की हालत गम्भीर बनी हुई है।

 

मथुरा दत्त जोशी ने कहा कांग्रेस पार्टी द्वारा दिनांक 8 जुलाई 2024 को ज्ञापन के माध्यम से शिकायत दर्ज की गई थी कि मंगलौर विधानसभा क्षेत्र के अनेक हिस्सों में हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, उत्तर प्रदेश आदि राज्यों के नम्बरों वाली गाडियां जिनमें भाजपा के चुनावी पोस्टर लगे हैं, के द्वारा भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता व बाहर से आये हुए नेतागण वोटरों को प्रभावित करने के लिए शराब व धन को खुले आम बांटी जा रही है तथा क्षेत्र में दहशत का माहौल बनाया जा रहा है। पूरे चुनाव प्रचार के दौरान स्थानीय पुलिस प्रशासन पूरी तरह से राज्य सरकार के दबाव में कार्य करता रहा तथा कांग्रेस कार्यकर्ताओं व स्थानीय लोगों को जांच के नाम पर प्रताडित कर दहशत फैलाने का काम किया गया। चुनाव आयोग द्वारा कांग्रेस पार्टी की शिकायत का संज्ञान नही लिये जाने के चलते आज मतदान के दौरान इस प्रकार की घटना घटित हुई है जिसके लिए निर्वाचन आयोग एवं स्थानीय पुलिस प्रशासन पूर्ण रूप से जिम्मेदार है।

ये भी पढ़ें:   उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट, सभी रहें सतर्क

जोशी ने कहा कि मंगलौर विधानसभा क्षेत्र में मतदान के दौरान हुई गोलीकांड की घटना को लोकतंत्र के लिए उचित नहीं ठहराया जा सकता है। मंगलौर के लिब्बरहेड़ी में घटी इस गम्भीर घटना के लिए दोषियों एवं जिम्मेदार पुलिस प्रशासन के अधिकारियों पर निर्वाचन आयोग के नियमों के तहत कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कंाग्रेस पार्टी मांग करती है कि लिब्बरहेडी घटना के दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाय तथा मंगलौर विधानसभा क्षेत्र के लिब्बरहेडी के बूथ संख्या 53 एवं 54 में पुनः मतदान कराया जाय। जिससे लोकतंत्र की रक्षा की जा सके।

 

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सहलाहकार अमरजीत सिंह, प्रदेश महामंत्री नवीन जोशी, महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ. जसविन्दर सिंह गोगी, स्वतत्रता संग्राम सेनानी प्रकोष्ट के महामंत्री अवधेश पन्त, आईसी सेल के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष विशाल मौर्य, प्रवक्ता सुलेमान अली, अनुराग मित्तल, डॉ. सुरेन्द्र प्रजापति आदि उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें:   RTI ACTIVIST का बड़ा दावा, देहरादून में बन रहे सैन्य धाम का बजट पहुंच गया दोगुना। खर्च होना था 49 करोड़ ओर हो गए 99 करोड़

 

उसके बाद भाजपा का प्रतिनिधि मंडल ने भी मुख्य निर्वाचन अधिकारी से मुलाकात की। और उन्होंने भी अपना शिकायत पत्र दिया जिसमें लिखा था

 

आज मंगलौर विधानसभा उपचुनाव में मतदान के समय जो घटना घटित हुई, उसको लेकर पूर्ण रूप से बाहरी विधानसभा से कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने मंगलौर विधानसभा में घूमकर अफवाह फैलाने का काम किया है। इसी क्रम में वर्ग विशेष में झूठी अपवाहें फैलाकर वहां का माहौल खराब करने की साजिश को अंजाम दिया गया। इस सबके पीछे उनका प्रयास वहां के चुनाव को प्रभावित किये जाने का था । कांग्रेस द्वारा पूर्णतया सोची समझी रणनीति के तहत इस घटनाक्रम को अंजाम दिया है जो पूरी तरह से आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है।

 

प्रतिनिधिमंडल ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए विधानसभा उपचुनाव के जिन बूथों पर चुनाव उल्लंघित हुआ है वहां की निष्पक्ष जांच करते हुये आवश्यक कार्यवाही करने का अनुरोध किया है।।

इस दौरान धर्मपुर विधायक विनोद चमोली के साथ राजपुर विधायक खजान दास, प्रदेश कोषाध्यक्ष पुनीत मित्तल, प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान, सह मीडिया प्रभारी राजेंद्र नेगी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *